बेंगलुरु:कर्नाटक में भाजपा को रोकने के लिए काँग्रेस ने जेडीएस के साथ सरकार तो बना ली;लेकिन कुमारस्वामी की नाराजगी कम नही हो रही।कुमारस्वामी काँग्रेस पर ठीक से काम न करने देने का इल्जाम भी लगा चुके है।काँग्रेस की मुश्किलें बढ़ रही है।उधर भाजपा सरकार गिरने का इंतजार कर रही है और इधर कुमारस्वामी इस्तीफा देने की बात कह रहे हैं।

कुमारस्वामी आज एक सभा मे भावुक हो गए।पार्टी के एक कार्यक्रम के दौरान वो रो पड़े।भावुक होते हुए उन्होंने कहा,”काँग्रेस के साथ बने गठबंधन की सरकार में हमे हररोज विष पीना पड़ रहा है।मुझे पता है आप मेरे मुख्यमंत्री होने से खुश है।लेकिन मैं इस गठबंधन में खुश नहीं हूं।मुझे लगा तो मैं दो घंटे में इस्तीफा दे सकता हूँ।”

उन्होंने आगे कहा,”मैंने विधानसभा चुनाव के पहले भी मुख्यमंत्री होने का ख्वाब देखा था।मैंने जनता से काफी वादे भी किये थे।लेकिन मैं मुख्यमंत्री बनकर भी खुश नहीं हूँ।कई लोग मुझपर नाराज हैं।मैंने अफसरों को यकीन दिला कर किसानों का कर्जा माफ किया।मुझे ‘अन्न भाग्य स्किम’के द्वारा ५ किलो की जगह ७ किलो चावल बाटना था।लेकिन उसके लिए अतिरिक्त २५०० करोड़ रुपये लग रहे थे।इतने पैसे मेरे सरकार के पास नहीं है।मैंने कुछ चीजों पर टैक्स लगाए।इसलिए मेरी आलोचना हो रही है।अब मैं कभी भी इस्तीफा दे सकता हूँ।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here