दिल्ली:भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनावों में राम मंदिर बनाने का वादा किया था।देश की जनता ने भी राम मंदिर बनेगा ऐसा मानकर मोदीजी को बहुत कुछ दिया।लेकिन सरकार बनने के चार साल बाद भी भाजपा सरकार राम मंदिर बनाने में नाकाम रही।अब लोगोंका गुस्सा बढ़ रहा है।विरोधी और सहयोगी दल भी राममंदिर के मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साध रहे हैं।

इसी बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भाजपा की मीटिंग में राम मंदिर बनाने का बयान दिया था।उन्होंने कहा था की,२०१९ के लोकसभा चुनावों से पहले राम मंदिर का काम शुरू कर देंगे।कई लोगो ने और विपक्षो ने भाजपा पर चुनाव करीब आने पर भगवान राम को याद करने का आरोप लगाया था।

अब भाजपा ने अपने बयान से पलटी मारी है।भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ऐसा कोई भी बयान नही दिया ऐसा पार्टी ने स्पष्ट किया है।अब भाजपा की फिरसे आलोचना हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here